student

ब्रेक्जिट के बाद ब्रिटेन में भारतीय छात्र और नौकरी करने वालों को मिलेगा लाभ

इस व्यवस्था के तहत विश्व के किसी भी कोने से आने वाले उच्च कुशलता वाले आव्रजकों पर किसी तरह की शर्तें नहीं लगाई जाएंगी और अंतरराष्ट्रीय छात्रों के लिए अध्ययन के बाद काम करने की पेशकश में सुधार होगा यूरोपीय संघ (ईयू) से ब्रिटेन के अलग होने के प्रस्तावित संक्रमण काल के बाद दिसंबर 2021 से अमल में लाए जाने इन प्रस्तावों में दावा किया जा रहा है कि वह देश के आव्रजन नियमों को सभी के लिए बराबर कर देगा

Related Articles

x

COVID-19

India
Confirmed: 2,461,190Deaths: 48,040
Close